Shri Ramcharit Manas Ramayan

450.00

+ Free Shipping
  • भाषा ‏ : ‎ हिंदी
  • हार्डकवर ‏ : ‎ 1055 पेज
  • आइटम का वज़न ‏ : ‎ 1 kg 790 g
  • आकार ‏ : ‎ 27.5 x 19 x 4.5 cm
  • कंट्री ऑफ़ ओरिजिन ‏ : ‎ भारत
  • कुल मात्रा ‏ : ‎ 1 Count
Category:

श्री रामचरित मानस, भारतीय साहित्य का एक महान ग्रंथ है और हिन्दू धर्म में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। इसे भगवान श्रीराम के जीवन के आधार पर सम्पूर्ण किया गया है और इसे गोस्वामी तुलसीदास जी द्वारा लिखा गया है। श्रीरामचरित मानस में भगवान श्रीराम की लीलाएं, महिमा, उपासना विधि, आचार्यों के संवाद, भक्तों की कथाएं, और राज्य प्रशासन का वर्णन है।

श्रीरामचरित मानस में रामायण की कथा को सुंदर कांड, बाल कांड, अरण्य कांड, किष्किंधा कांड और उत्तर कांड के रूप में विभाजित किया गया है। इसमें भगवान राम के अवतार, सीता जी के अपहरण, लंका दहन, रावण का वध, हनुमान जी की महिमा और अनेक महान् व्यक्तियों की कथाएं शामिल हैं।

श्रीरामचरित मानस को पठने और सुनने से भक्तों को आध्यात्मिक उन्नति, धर्मिक ज्ञान, और भक्ति का विकास होता है। इस ग्रंथ में श्रद्धा, सेवा, निष्ठा, करुणा, और संतोष जैसे गुणों की महत्वपूर्णता को बताया गया है और मानव जीवन की सही मार्गदर्शन की प्रेरणा दी गई है। श्रीरामचरित मानस हिन्दी भाषा में लिखा गया है और आज भी भारतीय साहित्य का महत्वपूर्ण हिस्सा बना हुआ है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Shri Ramcharit Manas Ramayan”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shopping Basket